Sunday, July 21, 2024
No menu items!
No menu items!
HomeUncategorizedश्रीराम फाइनेंस दे रहा 15 लाख तक का पर्सनल लोन ! ऐसे...

श्रीराम फाइनेंस दे रहा 15 लाख तक का पर्सनल लोन ! ऐसे करें आवेदन


Last Updated On June 19, 2024

Shriram finance loan : क्या आपका सिबिल स्कोर कम है और आप लोन प्राप्त करने की सोच रहे हैं? अगर हां, तो श्रीराम फाइनेंस पर्सनल लोन आपके लिए एक बेहतरीन विकल्प हो सकता है। यहां आपको कम सिबिल स्कोर के बावजूद लोन प्राप्त करने का मौका मिलता है। भारतीय रिजर्व बैंक की धारा 45 के तहत यह पंजीकृत है, जिससे यह एक भरोसेमंद विकल्प बन जाता है।

जैसा कि आप जानते हैं, आमतौर पर 300 या उससे अधिक के सिबिल स्कोर पर ही पर्सनल लोन मिलता है। लेकिन जिनका सिबिल स्कोर 300 से कम है या माइनस में है, उनके लिए लोन प्राप्त करना मुश्किल होता है।

यदि आपका सिबिल स्कोर भी कम है, तो चिंता की कोई बात नहीं है। श्रीराम फाइनेंस पर्सनल लोन के जरिए आप आसानी से लोन प्राप्त कर सकते हैं। चलिए, आपको इसके बारे में पूरी जानकारी देते हैं।

पर्सनल लोन के लिए जरूरी डॉक्यूमेंट

  • पैन कार्ड 
  • आधार कार्ड 
  • एड्रेस प्रूफ
  • बैंक स्टेटमेंट 
  • पासपोर्ट साइज फोटो 
  • मोबाइल नंबर

 

श्रीराम फाइनेंस पर्सनल लोन की विशेषताएं और लाभ

  • अगर आप श्रीराम फाइनेंस पर्सनल लोन के जरिए आवेदन करते हैं तो यह पूरी तरह से डिजिटल तौर पर काम करता है और यहां पर आप घर बैठे ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं।
  • अगर आप श्रीराम फाइनेंस लोन के जरिए पर्सनल लोन लेना चाहते हैं तो इसके लिए आपको किसी भी प्रकार के दस्तावेज के लिए शुल्क नहीं देना पड़ेगा। इसी के साथ किसी भी प्रकार की डॉक्यूमेंटेशन फीस भी नहीं देनी पड़ती है।
  • श्रीराम फाइनेंस लोन के जरिए आपको कम सिविल स्कोर पर भी लोन मिल जाता है। यहां पर आप कम से कम ₹100000 से लेकर 2 लाख रुपए तक का तत्काल लोन प्राप्त कर सकते हैं। इसके लिए आपको 12 महीने का लॉक इन पीरियड सुविधा भी दी जाती है।
  • श्रीराम फाइनेंस लोन के जरिए अगर आप पर्सनल लोन प्राप्त करना चाहते हैं तो यह लोन 72 घंटे के भीतर सेंसशन कर दिया जाता है और जमा किया जा सकता है। यहां पर आपको 36% तक वार्षिक ब्याज दर का भुगतान करना होता है। यह भुगतान आपको ईएमआई के द्वारा करना पड़ता है।

श्रीराम फाइनेंस पर्सनल लोन के लिए फीस और शुल्क

सबसे पहले तो आपको बता दे कि कहीं से भी अगर आप लोन प्राप्त करते हैं तो इसके लिए आपको फीस और शुल्क का भुगतान जरूर करना पड़ता है। ऐसे में अगर आप श्रीराम फाइनेंस पर्सनल लोन के लिए अप्लाई करना चाहते हैं तो यहां पर भी कुछ प्रोसेसिंग फीस जारी की गई है। यहां पर ब्याज दर 12% प्रति वर्ष से शुरू होता है जिसके अंतर्गत प्रोसेसिंग फीस लगभग लोन के राशि का 3% तक होता है। इसी के साथ-साथ स्वैप्ट चार्ज ₹500 का चेक बाउंस ₹500 कलेक्शन चार्ज ₹200 एवं पोस्ट चार्ज ₹50 का किया जाता है। इसी के साथ आपको बता दे कि यहां पर किसी भी प्रकार की डॉक्यूमेंट फीस नहीं लगती है।

अन्य पोस्ट: बैंक ऑफ बड़ौदा गरीबों को दे रही है 05 लाख तक का लोन केवल आधार कार्ड पर

₹1,50,000 लोन के लिए जरूरी योग्यता एवं शर्तें

आपको श्रीराम फाइनेंस के अंतर्गत कम सिविल स्कोर पर अगर पर्सनल लोन प्राप्त करना चाहते हैं तो इसके लिए कुछ जरूरी शर्तें और पात्रता जारी की जाती है। आपको बता दे कि यहां पर आपको प्रमुख सुविधा 300 या फिर 300 से अधिक सिविल स्कोर वाले को पहले प्राथमिकता दी जाती है। अगर आप 300 या फिर 300 से अधिक सिविल स्कोर वाले हैं तो आपको लोन आराम से मिल सकता है।

इसी के साथ-साथ अगर आप लोन प्राप्त करना चाहते हैं तो आपकी न्यूनतम आयु 21 वर्ष होनी अनिवार्य है। वहीं अगर अधिकतम आयु की बात की जाए तो इसके लिए 60 वर्ष अधिकतम आयु निर्धारित की गई है। अगर आप श्रीराम फाइनेंस पर्सनल लोन के द्वारा लोन प्राप्त करना चाहते हैं तो इसके लिए यह जरूरी है कि आप भारत के मूल निवासी हो, तभी आप इस लोन के तहत आवेदन कर सकते हैं।

श्रीराम फाइनेंस पर्सनल लोन के लिए आवेदन

श्रीराम फाइनेंस पर्सनल लोन के अंतर्गत अगर आप आवेदन करना चाहते हैं तो इसके लिए आप ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों ही तरीकों का इस्तेमाल कर सकते हैं। यहां पर ऑनलाइन आवेदन करने के लिए आपको ऑफिशियल वेबसाइट पर जाना होगा। वहीं अगर आप ऑफलाइन आवेदन करना चाहते हैं तो आप नजदीकी ब्रांच में जाकर आवेदन कर सकते हैं। यहां पर सबसे पहले दस्तावेज की पुष्टि की जाती है, उसके बाद आपके लोन का सत्यापन किया जाता है। जब सभी जानकारी सही होती है तब आपका लोन अप्रूव कर दिया जाता है। लोन अप्रूव होने के बाद लोन की राशि आपके बैंक अकाउंट में ट्रांसफर कर दी जाती है।

Disclaimer

Sarkarijobfind.com किसी भी सरकारी एजेंसी या राजनीतिक दल का प्रतिनिधित्व नहीं करता। मेरे द्वारा प्रदान की गई जानकारी सामान्य सूचना के उद्देश्यों के लिए है और यह सार्वजनिक उपलब्ध स्रोतों पर आधारित है। किसी भी फैसले या कार्रवाई करने से पहले संबंधित अधिकारी या विभाग से जानकारी की पुष्टि करना सदैव उचित होता है।



Source link

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments